शनिवार, 25 अगस्त 2012 | By: हिमांशु पन्त

समय - हाइकु

बलवान है,

प्रचंड है परम,

समय है ये।


ये है अजेय,

है अमर अजर,

प्रलय है ये।


सजग बड़ा,

इसे हर खबर,

प्रहरी है ये।


समझो इसे,

है अजब गजब,

समय है ये।

2 comments:

Siddharth Garg ने कहा…

Great post. Check my website on hindi stories at afsaana
. Thanks!

Rajiv ने कहा…

Great post. Check my website on hindi stories at afsaana . Thanks!

एक टिप्पणी भेजें